इफ्को ने उतारी नैनो तकनीक वाले खाद, इतनी बढ़ेगी पैदावार

इफ्को ने उतारी नैनो तकनीक वाले खाद, इतनी बढ़ेगी पैदावार

किसानों का आय दोगुना करने के मद्देनजर सरकार कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहती है। इसी कड़ी में देसी कंपनी ने नैनो प्रौद्योगिकी पर आधारित ऐसे उर्वरक पेश किए हैं जिनसे पैदावार 30 फीसदी तक अधिक होगी।

इंडियन फारमर्स फर्टिलाइजन कापरेटिव (इफको) ने फसलों की पैदावार में 15 से 30 प्रतिशत तक वृद्धि करने वाले वाले नैनो नाइट्रोजन, नैनों जिंक और नैनो कॉपर उत्पाद को क्षेत्र परीक्षण के लिए रविवार को जारी कर दिया। उर्वरक एवं रसायन मंत्री डी. बी. सदानंद गौड़ा ने उर्वरक क्षेत्र की दुनियां की सबसे बड़ी सहकारी संस्था इफको की मातृ इकाई गुजरात के कलोल में एक समारोह में नैनो प्रौद्योगिकी आधारित नैनो नाइट्रोजन, नैनो जिंक और नैनों कॉपर का लोकार्पण किया।
उन्होंने इन उत्पादों के क्षेत्र परीक्षण करने की भी घोषणा की । गौड़ा ने कहा कि नैनो उत्पाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ग्रीन परियोजना का हिस्सा है । इसकी मदद से न केवल किसानों की आय दोगुनी करने में मदद मिलेगी बल्कि इससे मिट्टी की गुणवत्ता में सुधार होगा।