किसान क्रेडिट कार्ड

किसान क्रेडिट कार्ड भारतीय बैंकों द्वारा वर्ष 1998 में आरम्भ की गयी एक योजना है। इससे किसानों को कर्जा मिल रहा है उस की ब्याज दर कम होती है जिसकी वजह से किसान आसानी से कर ले सकता है वह सरकार की तरफ से होता है इसीलिए किसान क्रेडिट कार्ड सुविधा सबसे अच्छी सुविधा है इसमें किसान को 50000 से 300000 तक का कर्ज दिया जाता है जिसके ब्याज दर छहः माह तक 4% तथा एक साल के लिए 7% परसेंट होती है जो किसानों के लिए बहुत ही अच्छी है इस किसान क्रेडिट कार्ड की वजह से किसान अपनी फसल का बीमा भी करवा सकते हैं जिस किसी भी कारण से अपनी फसल नष्ट होने पर उनको मुआवजा भी दिया जाता है जैसे बाढ़ की स्थिति में फसल का डूब के नष्ट हो जाना या सूखा पड़ने पर फसल का जल जाना आदि सुविधाओं में यह किसान क्रेडिट कार्ड बहुत ही ज्यादा काम आता है इसकी वजह से किसान लाभ उठा सकता है
किसान क्रेडिट कार्ड योजना के अंतर्गत KCC धारक को व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा कवर भी प्रदान किया जाता है | जो इस प्रकार है - मृत्यु पर ₹50000 , विकलांगता पर ₹25000 , इस योजना के अंतर्गत 70 वर्ष तक कवर प्रदान किया जाता है |

देश के 14.5 करोड़ किसानों को मोदी सरकार का तोहफा, अब सिर्फ 15 दिन में बनेगा किसान क्रेडिट कार्ड

देश के 14.5 करोड़ किसानों को मोदी सरकार का तोहफा, अब सिर्फ 15 दिन में बनेगा किसान क्रेडिट कार्ड

किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( Kisan Samman Nidhi Yojana ) की सौगात देने के बाद मोदी सरकार ( Modi govt ) देश के किसानों को क्रेडिट कार्ड ( Kisan Credit Card ) देने का फैसला किया है। सरकार ने देश के किसानों को साहूकार के द्वारा लगाए जाने वाले भारी ब्याज से बचाने के लिए यह अभियान शुरू किया है। सरकार के इस फैसले से किसानों की आय को बढ़ाया जा सकेगा। इसके साथ ही अगर किसानों के पास क्रेडिट कार्ड ( KCC ) होगा तो वह आसानी से कर्ज ले सकते हैं।

15 दिन में बनेगा KCC