बरसात

बरसात का मौसम प्रेमियों का माना जाता है. गरमी का मौसम धरती को प्यासा छोड़ देता है मई के महीने में धरती बरसात के लिए तरसता हुआ कहा जाता है. प्रेमी, प्रेमिकाओं की स्थिती भी ऐसी ही होती है. उनके मिलन से पहले उनकी मनःस्थिति भी धरती की तरह प्यासी होती है जो अपने प्रेमी की राह में तरसते है. बारिश का मौसम बॉलीवूड का सबसे पसंदीदा मैसम है. बॉलिवूड में बढिया से बढिया गाने वर्षा ऋतु संबंधी है.

सिंघाड़े की खेती में अधिक फायदा

सिंघाड़े की खेती

गर आपके घर के पास कोई तालाब हो तो ये सही समय है सिंघाड़े की बुवाई का। जून, जुलाई और अगस्त महीने तक किसान बुवाई कर सकते हैं। सितम्बर महीने से सिघाड़े के पौधों में सिघाड़े उगने शुरू हो जाते हैं और अक्टूबर से लेकर जनवरी तक पौधे से सिघाड़े निकलते रहते हैं।

करीब सात फीसद घट सकता है चीनी उत्पादन: इस्मा

करीब सात फीसद घट सकता है चीनी उत्पादन

महाराष्ट्र और कर्नाटक में कमजोर बरसात से वहां गन्ना उत्पादन में गिरावट की के अनुमान के बीच देश में अक्तूबर से शुरू होने वाले अगले चीनी विपणन सत्र में चीनी उत्पादन करीब सात फीसद घटकर दो करोड़ 32.6 लाख टन रह सकता है।